आपके चेहरे पर दिखने लगते हैं विटामिन (Vitamin) की कमी के ये 6 लक्षण

सेहत ही असली कुंजी है और एक स्‍वस्‍थ जीवनशैली जीने के लिए आपके लिए संतुलित आहार का सेवन करना महत्‍वपूर्ण होता है। कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और फैट के आवश्यक भाग को खाने में शामिल करने के अलावा, आपके लिए विटामिन की दैनिक मात्रा को पूरा करना बहुत जरूरी होता है। विटामिन हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने के साथ-साथ बैक्टीरिया और वायरस से हमें बचाने में मदद करते हैं, आमतौर पर लोगों में विटामिन की कमियों के लक्षण तब दिखते हैं जब मौसम में बदलाव के कारण इंफेशन होता हैं।

आइए ऐसे कुछ लक्ष्णों के बारे में जानें जिनसे पता चलता है कि आपकी बॉडी में विटामिन की कमी हैं।

1.पीली या ड्राई स्किन

Vitamin

हम सभी ने देखा है कि सर्दियों के मौसम में कुछ लोगों की स्किन पीली हो जाती है। ऐसा लोगों में  सूरज की कमी के कारण नहीं बल्कि विटामिन बी 12 की कमी के कारण हो जाता हैं। अगर आप भी विटामिन बी की कमी से ग्रस्‍त है तो आप देखेंगे कि आप थका हुआ महसूस करना शुरू कर देंगे और जल्द ही अवसाद से पीड़ित होंगे। विटामिन बी 12 के सेवन में सुधार के लिए, आपको अपनी डाइट में समुद्री भोजन और मीट को शामिल करना चाहिए।

सर्दियों के मौसम के दौरान लोगों की त्वचा में ड्राईनेस बढ़ने लगती है हालांकि, अगर आपके त्‍वचा  पूरे साल के दौरान ड्राई होती है, तो यह इस बात का संकेत हो सकता है कि आपमें विटामिन ए और सी की कमी है। विटामिन ए हमारी त्वचा को सूरज से पराबैंगनी विकिरण के जोखिम से बचाता है, जबकि हमारे शरीर कोलाजेन के संश्लेषण में विटामिन सी का उपयोग होता हैं। कोलेजन का उपयोग हमारे शरीर द्वारा नई त्वचा, बाल, और नाखूनों के उत्पादन में किया जाता है। इन विटामिनों के सेवन में सुधार के लिए, आपको प्लम, नारंगी, मिर्च, केला, गोभी, सलाद पत्‍ता, गाजर, खुबानी, पालक, और अंगूर आदि को शामिल करना चाहिए।

2.ड्राई हेयर

Vitamin

बायोटिन की कमी, जिसे विटामिन बी 7 भी कहा जाता है, से आपके बाल ड्राई और उनमें ड्रैंडफ होने लगती है। बायोटिन का स्तर हमारे शरीर में तब गिरने लगता है, जब हम एंटीबायोटिक दवाओं का कोर्स शुरु करते हैं। अपने शरीर में बायोटिन के आवश्यक स्तर को बनाए रखने के लिए, आपको अधिक मीट, समुद्री भोजन, फलों, सब्जियां, मशरूम, फलियां और अंडे का उपभोग करना चाहिए।

ड्राई बालों में आमतौर पर रूसी पाई जाती है। हालांकि, अगर आपके बालों में ड्रैंडफ है लेकिन बाल ड्राई नहीं है, तो यह सावधानी के लिए एक संकेत हो सकता है। ड्रैंडफ को विटामिन बी 2 और बी 6 की कमी के संकेत के रूप में जाना जाता है। ड्रैंडफ से छुटकारा पाने के लिए आपको अपने आहार में  बीन्स, मछली, डार्क चॉकलेट, चोकर, नट्स, अंडे और गाजर जैसे चीजों को शमिल करना चाहिए।

3. सूजी आंखें

Vitamin

आंखों में बहुत ज्‍यादा सूजन आमतौर पर एलर्जी प्रतिक्रियाओं के कारण होती है। हालांकि, अगर आपकी आंखें सुबह में जागते समय सूज जाती हैं, तो यह एक संकेत हो सकता है कि आपके शरीर में आयोडीन की कमी है। आपके शरीर में आयोडीन के स्तर को बढ़ाने के लिए, आपको अपने भोजन में आयोडीन युक्त नमक को जोड़ना चाहिए। वैकल्पिक रूप से, आप डेयरी उत्पाद, मछली और रोटी के माध्यम से आयोडीन प्राप्त कर सकते हैं।

अगर आपकी आंखे चमकदार रोशनी के प्रति संवेदनशील होती है, तो यह विटामिन ए और बी 2 की कमी के कारण हो सकता है। आपके शरीर में इन विटामिन के स्तर को बढ़ाने में मदद करने के लिए आपको पहले बताई चीजों को शामिल करना चाहिए। अगर फिर समस्या बनी रहती है, तो अच्छा यह रहेगा कि आप अपनी आंखों की जांच करवाने के लिए नेत्र विशेषज्ञ के पास जाएं।

4. पीले होंठ

Vitamin

जिन लोगों को जल्‍दी ठंड लग जाती है, या जिन लोगों में लो ब्लड प्रेशर होता है उनके होंठ आमतौर पर पीले होते हैं। यह आपके आहार में आयरन की कमी या विटामिन बी-12 की कमी के लक्षण है। शरीर में आयरन के लेवल को तेजी से बढ़ाने का सबसे अच्‍छा तरीका लीवर और रेड मीट का सेवन है। लेकिन आपको इस बात का ध्‍यान रखना होगा कि आप डेयरी उत्पाद या कैल्शियम और कैल्शियम के किसी अन्य स्रोत से बचें, क्योंकि कैल्शियम हमारे शरीर द्वारा आयरन के अवशोषण को रोकता है।

5. मसूड़ों से खून आना

Vitamin

लंबे समय पहले, नाविक अक्सर मसूड़ों से खून या ‘स्कर्वी’ का शिकार होते थे- ये आहार में विटामिन सी की कमी के कारण होने वाली एक समस्या है। विटामिन सी के स्तर को बढ़ाने के लिए आपको अपने आहार में संतरे, नींबू, और अंगूर जैसे खट्टे फलों के साथ मिर्च जैसे लाल मिर्च खाने चाहिए।

6. मुंहासे

Vitamin

हालांकि मुंहासे आमतौर पर हार्मोनल बदलाव, गंदगी, जर्म्‍स और आपकी त्वचा में मृत त्वचा कोशिकाओं के जमा होने के कारण होते है, लेकिन कभी-कभी यह विटामिन की कमी के कारण भी हो सकते है। जी हो आहार में विटामिन ए और ई के निम्न स्तर के कारण मुंहासे भी हो सकते हैं। अपने शरीर में विटामिन ई के स्तर में वृद्धि करने के लिए आपको अपने आहार में पालक, जैतून के तेल, बीज, फूलगोभी और वीटग्राम को शमिल करना चाहिए। इसी प्रकार, आपके शरीर में विटामिन ए के स्तर को बढ़ाने के लिए, आपको मछली, अंडे, फलियां और मक्खन जैसे खाद्य पदार्थों का उपभोग करना चाहिए।

आपका शरीर विटामिन की कमियों के लक्षण दिखा सकता है, जो अक्सर अन्य कारणों जैसे कि पर्यावरण में परिवर्तन या स्वच्छता के साथ उलझा रहता हैं। लक्षणों को कम करने के लिए आपको इन विटामिन की कमी के लक्षणों से अच्छी तरह अवगत होना चाहिए और अपने भोजन में आवश्यक परिवर्तन करने चाहिए।

Our Score
Our Reader Score
[Total: 2 Average: 5]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ajax LoaderPlease wait...

Subscribe For Latest Updates

Want to be notified when our article is published? Enter your email address and name below to be the first to know.